क्रिया विशेषण की परिभाषा ,उसके भेद तथा उदाहरण

Kriya Visheshan in Hindi

 क्रिया विशेषण ( Kriya visheshan ki Paribhasha)

वे अविकारी या अव्यव शब्द,जो क्रिया की विशेषता बतलाते हैं, उन्हें क्रियाविशेषण कहते हैं ।

उदाहरण –
🔸गीता धीरे- धीरे चल रही है ।

इस वाक्य में “धीरे-धीरे” द्वारा चलने की विशेषता प्रकट हो रही है । अतः धीरे-धीरे क्रियाविशेषण है ।

kriya visheshan in Hindi
kriya visheshan in Hindi

क्रिया विशेषण के प्रकार या भेद –

क्रिया विशेषण शब्द मुख्यतः चार प्रकार के होते हैं जो निम्न प्रकार है –

(1) कालबोधक क्रिया- विशेषण

वे अव्यय शब्द जो क्रिया के होने या करने के समय का बोध कराते हैं ।

जैसे- कब, जब, कल, आज, प्रतिदिन, प्राय:,सायं, अभी- अभी, लगातार, अब, तब, पहले ,बाद में ।

उदाहरण –
🔸वह आज जाएगा ।
🔸मैं प्रतिदिन दूध पीता हूं ।
🔸राम कल जयपुर जाएगा ।
🔸श्याम लगातार प्रथम स्थान पर रहा है ।

(2) स्थानबोधक क्रिया- विशेषण

वे अव्यय शब्द जो क्रिया के स्थान या दिशा का बोध कराते हैं ।

जैसे- ऊपर, नीचे, पास, दूर, इधर,उधर, यहाँ, वहाँ, जहाँ, तहाँ, दाएँ, बाएँ, निकट, सामने, अंदर, बाहर ।

उदाहरण –
🔸वह पीछे-पीछे आ रहा है ।
🔸तुम आगे चलो ।
🔸राम का घर दूर है ।
🔸श्याम कमरे के अंदर है ।
🔸कुत्ता कुर्सी के नीचे हैं ।

(3) परिमाणबोधक क्रिया- विशेषण

वे अव्यय शब्द, जो क्रिया के होने की मात्रा या परिमाण का बोध कराते हैं ।

जैसे- बहुत, अति, सर्वथा, कुछ, थोड़ा, बराबर, ठीक, कम, अधिक, बढ़कर, थोड़ा-थोड़ा, उतना,जितना,खूब ।

उदाहरण –
🔸वह अधिक बोलता है ।
🔸रमा कुछ मुस्कुराई ।
🔸तुम थोड़ा- थोड़ा खाया करो ।
🔸मोहन अति प्रसन्न है ।
🔸श्याम अब ठीक है ।

(4) रीतिबोधक क्रिया- विशेषण

वे अव्यय शब्द, जो क्रिया के होने की रीति या ढंग का बोध कराते हैं ।

जैसे- धीरे-धीरे, सहसा, शीघ्र, तेज, मीठा, शायद, मानो, ऐसे, अचानक, स्वयं, यथाशक्ति, नि:सन्देह ।

उदाहरण
🔸शीला विनयपूर्वक बोलती है ।
🔸मनीष तेज दौड़ता है ।
🔸तुम शीघ्र करो ।
🔸आम मीठा होता है ।
🔸राम अचानक स्कूल आ गया ।

क्रिया – विश्लेषण के अन्य भेद –

(5) कारणबोधक क्रिया- विशेषण

वे अव्यय शब्द, जो क्रिया के कारण को प्रकट करते हैं ।

जैसे- इस तरह, अतः ,किस प्रकार,क्योंकि ।

(6) स्वीकारबोधक क्रिया- विशेषण

वे अव्यय शब्द, जो क्रिया की स्वीकृति को प्रकट करते हैं ।

जैसे- अवश्य, बहुत अच्छा,हाँ,ठीक,सच ।

(7) निषेधबोधक क्रिया- विशेषण

वे अव्यय शब्द, जो क्रिया के निषेध को प्रकट करते हैं ।

जैसे- न, नहीं,मत,बिल्कुल नहीं ।

(8) निश्चयबोधक क्रिया- विशेषण

वे अव्यय शब्द, जो क्रिया के निश्चय को प्रकट करते हैं ।

जैसे- वास्तव में ,मुख्यतः,सचमुच ,बेशक ।

(9) अनिश्चितबोधक क्रिया- विशेषण

वे अव्यय शब्द ,जो क्रिया के अनिश्चय को प्रकट करते हैं ।

जैसे- शायद, संभवत: ।

यह भी पढ़े-

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Scroll to Top