रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर वाराणसी

भारत और जापान की सैकड़ों साल पुरानी दोस्ती का प्रतीक रुद्राक्ष अंतरराष्ट्रीय कन्वेंशन सेंटर वाराणसी में बनकर तैयार हो गया है । इसकी लागत 186 करोड़ रूपए है । रूद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर का लोकार्पण 15 जुलाई 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया जाएगा ।

शिव लिंग के आकार में बने रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर के उद्घाटन के दौरान पीएम मोदी रुद्राक्ष का एक पौधा भी लगाएंगे । इस दौरान जापान के राजदूत सुजकी सतोशी भी मौजूद रहेंगे ।

रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर वाराणसी
रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर वाराणसी

रुद्राक्ष कनेक्शन सेंटर की नींव 12 दिसंबर 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे के द्वारा रखी गई । इसके बाद इसकी डिजाइन जापान की कंपनी ओरिएंटल कंसल्टेंट ग्लोबल ने किया है । इसका निर्माण भी जापान की फुजिता कॉरपोरेशन कंपनी ने किया है ।

इसमें 1200 लोगों के बैठने के लिए एडवांस सुविधाओं वाला हॉल है । इसे जरूरत पड़ने पर हॉल को लोगों की संख्या के मुताबिक दो हिस्सों में बांटा जा सकता है । इसमें वियतनाम से आई कुर्सियां लगाई गई है और जापान का ऑडियो वीडियो सिस्टम लगा है ।

कन्वेंशन सेंटर के बाहरी हिस्से में एलुमिनियम के बने 108 सांकेतिक रूद्राक्ष लगे हैं ।

यह कन्वेंशन सेंटर 3 एकड़ यानि 13196 स्क्वायर मीटर जमीन पर बनाया गया है ।

कन्वेंशन सेंटर में 150 लोगों की क्षमता के दो मीटिंग हॉल के अलावा, एक VIP कक्ष और चार ग्रीन रूम भी बनाए गए हैं ।

इस सेंटर के बेसमेंट में 120 वाहनों के पार्किंग की सुविधा है । इसमें जापानी शैली का गार्डन और लैंडस्केपिंग भी की गई है ।

इसमें एक गैलरी बनाई गई है जिसमें विश्व प्रदर्शनी की सुविधा है ।

इसमें 120 किलो वॉट का सौर प्लांट और 200 किलो वॉट का कनेक्शन है ।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Scroll to Top