भारत के महत्वपूर्ण सैन्य अभ्यास 2022 (November 2022)

आज हम करंट अफेयर्स में “Senya Abhyas 2022 in Hindi” की बात करेंगे जो आपके आने वाले एग्जाम में इनमें से एक या दो प्रश्न पूछे जाते हैं ।

2022 के ऑपरेशन/सैन्य अभियान/अभियान/ मिशन

Senya Abhyas 2022 in Hindi
Senya Abhyas 2022 in Hindi

Joint Military Exercise 2022 in Hindi

संयुक्त अभ्यास ‘गरूड़-VII’

  • भारत और फ्रांस की वायुसेनाओं का संयुक्त युद्धाभ्यास गरुड़ ( Garud-VII) सूर्यनगरी जोधपुर (राजस्थान) में 26 अक्टूबर 2022 को शुरू हुआ ।
  • दोनों देशों की सेनाओं के बीच यह सातवां अभ्यास है । इससे पहले तीन अभ्यास फ्रांस में और तीन अभ्यास भारत में हो चुके हैं ।

संयुक्त अभ्यास ‘टाइगर ट्रंफ’

  • भारत और अमेरिका की सेना ने दोनों देशों के बीच बढ़ते रणनीतिक सहयोग के तहत 18 से 20 अक्टूबर 2022 को विशाखापट्टनम में संयुक्त मानवीय सहायता अभ्यास ‘टाइगर ट्रंफ’ संपन्न हुआ ।
  • ‘टाइगर ट्रंफ’ अभ्यास क्षेत्र में आपदा राहत के समन्वय के लिए भारतीय और अमेरिकी सेनाओं के बीच किया गया दूसरा अभ्यास था ।

भारत-जापान अभ्यास ‘जिमेक्स-2022’

  • भारतीय नौसेना द्वारा आयोजित जापान इंडिया मैरिटाइम एक्सरसाइज 2022 ‘जिमेक्स-2022’ का छठा संस्करण 11 सितंबर 2022 को बंगाल की खाड़ी में शुरू हुआ ।
  • 17 सितंबर तक चले ‘जिमेक्स-2022’ में दो चरण शामिल थे –
    (१) समुंद्र में अभ्यास
    (२) विशाखापट्टनम में बंदरगाह चरण ।

संयुक्त अभ्यास ‘गगन स्ट्राइक’

  • भारतीय थल सेना की खड़गा कोर और वायुसेना ने पंजाब में संयुक्त अभ्यास ‘गगन स्ट्राइक’ 12 सितंबर 2022 को शुरू किया ।
  • खड़गा कोर के जनरल ऑफिसर कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल प्रतीक शर्मा के नेतृत्व में 4 दिन तक संयुक्त अभ्यास चला ।
  • इस अभ्यास में जमीनी बलों के यांत्रिक कॉलम के साथ समन्वय करते हुए हेलीकॉप्टरों के सटीक हमलों का प्रदर्शन भी किया गया ।

बहुराष्ट्रीय अभ्यास ‘काकाडू 2022’

  • नौसेना के लिए भारत के स्वदेश निर्मित पोत ‘आईएनएस सतपुड़ा’ ने ऑस्ट्रेलियाई नौसेना की मेजबानी में सितंबर 2022 में हुए बहु राष्ट्रीय अभ्यास ‘काकाडू 2022’ के दौरान अपने शौर्य का प्रदर्शन किया ।
  • थीम :- साझेदारी, नेतृत्व, दोस्ती ।
  • इस युद्धाभ्यास का उद्देश्य ‘मित्र देशों की नौसेनाओं के बीच समुंद्र में आपसी तालमेल को बढ़ाना है ‘ ।

वोस्तोक- 2022 सैन्य अभ्यास

  • ‘वोस्तोक- 2022 ( Vostok-2022) रणनीतिक कमान और स्टाफ अभ्यास’ 30 अगस्त से 5 सितंबर 2022 तक रूस में आयोजित किया गया ।
  • इस अभ्यास में भारत ,चीन और रूस के अलावा बेलारूस, मंगोलिया , ताजिकिस्तान की सेनाएँ भी भाग लेगीं ।
  • इसका उद्देश्य भाग लेने वाली देशों की सेनाओं के साथ व्यवहारिक और मैत्रीपूर्ण सहयोग को गहरा करना , भाग लेने वाले दलों के बीच रणनीतिक सहयोग के स्तर को बढा़ना और विभिन्न सुरक्षा खतरों का जवाब देने की क्षमता को मजबूत करना है ।

उदारशक्ति युद्धाभ्यास

  • भारतीय वायुसेना और रॉयल मलेशियाई वायु सेना के बीच द्विपक्षीय युद्धाभ्यास ‘उदारशक्ति’ अगस्त 2022 में मलेशिया में आयोजित हुआ ।
  • दोनों देशों की वायु सेनाओं के बीच यह पहला द्विपक्षीय युद्धाभ्यास है ।

वज्र प्रहार 2022 सैन्य अभ्यास

  • भारत-अमेरिका के संयुक्त विशेष सैन्य बलों के 13वें संस्करण के अभ्यास ‘वज्र प्रहार 2022’ की शुरुआत 8 अगस्त 2022 को हुई ।
  • 21 दिवसीय यह अभ्यास हिमाचल प्रदेश के बकलोह में स्थित स्पेशल फोर्सेज ट्रेनिंग स्कूल में शुरू हुआ ।
  • ‘वज्र प्रहार’ अभ्यास का उद्देश्य दोनों देशों के विशेष बलों के बीच संयुक्त मिशन योजना और परिचालन रणनीतियों के अनुभवों को सांझा करना है ।

‘पिच ब्लैक’ अभ्यास

  • ऑस्ट्रेलिया के डार्विन में रॉयल ऑस्ट्रेलियाई वायु सेना द्वारा ‘पिच ब्लैक’ अभ्यास का आयोजन 17 देशों के बीच 19 अगस्त से 8 सितंबर 2022 तक किया गया ।
  • ‘पिच ब्लैक’ अभ्यास में ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इंडोनेशिया, भारत, जापान, मलेशिया, नीदरलैण्ड, न्यूजीलैंड, फिलीपींस, दक्षिण कोरिया, सिंगापुर, थाईलैंड, यूएई, ब्रिटेन और अमेरिका के लगभग 100 विमान और 2500 सैन्यकर्मी शामिल है ।
  • ग्रुप कैप्टन वाईपीएस नेगी के नेतृत्व में भारतीय वायु सेना की टुकड़ी में 100 से अधिक वायु योद्धा शामिल है , जिन्हें चार सुखोई-30 MKI लडा़कू और दो C-17 विमानों के साथ तैनात किया गया है ।

‘एक्स विनबैक्स 2022’ अभ्यास

  • वियतनाम-भारत द्विपक्षीय सैन्य अभ्यास ‘एक्स विनबैक्स 2022’ का तीसरा संस्करण हरियाणा स्थित भारतीय सेना की पश्चिमी कमांड चंडीमंदिर में 1 से 20 अगस्त 2022 को संपन्न हुआ ।
  • थीम :- शांति रक्षा अभियानों के लिए संयुक्त राष्ट्र दल के हिस्से के रूप में इंजीनियर कंपनी एवं चिकित्सा दल का रोजगार और तैनाती ।

संयुक्त सैन्य अभ्यास ‘अल नजाह-IV’

  • भारतीय सेना और ओमान की शाही सेना की टुकड़ियों के बीच भारत-ओमान संयुक्त सैन्य अभ्यास का चौथा संस्करण ‘अल नजाह-IV’ 1 से 13 अगस्त 2022 को राजस्थान के बीकानेर स्थित ‘महाजन फील्ड फायरिंग रेंज ‘ के विदेशी प्रशिक्षण नोड में आयोजित किया गया ।
  • संयुक्त सैन्य अभ्यास का उद्देश्य भारतीय सेना एवं ओमान की शाही सेना के बीच रक्षा सहयोग के स्तर को बढा़ना है ।
  • संयुक्त सैन्य अभ्यास का पिछला संस्करण 12 से 25 मार्च 2019 को मस्कट में आयोजित किया गया था ।

रिमपैक अभ्यास 2022

  • बहुपक्षीय नौसैन्य अभ्यास रिमपैक ( Exercise RIMPAC 2022) का 28 वां संस्करण 29 जून 2022 को अमेरिका के कैलिफोर्निया के तट पर प्रशांत महासागर में शुरू हुआ ।
  • रिमपैक – विश्व का सबसे बड़ा द्विवार्षिक अंतरराष्ट्रीय बहुपक्षीय समुद्री अभ्यास है ।
  • रिमपैक अभ्यास 2022 का मुख्य विषय हैं :- Capable, Adaptive, Partners.
  • इस बहुआयामी अभ्यास में भारत सहित 26 देश, 38 युद्धपोत , 9 थल सेना, 31 मानव रहित प्रणाली, 170 विमान और 25,000 से अधिक कर्मी भाग ले रहे हैं ।
  • भारतीय नौसेना के स्वदेशी युद्धपोत आईएनएस सतपुड़ा और p8i , LRMR ASW विमानों ने इस अभ्यास में भाग लिया ।
  • यह अभ्यास अमेरिकी नौसेना के नेतृत्व में हो रहा है । इस अभ्यास का समुद्री चरण 12 जुलाई 2022 को शुरू हुआ तथा 4 अगस्त 2022 को समाप्त हुआ ।

Maritime Partnership Exercise (MPX) अभ्यास

  • जापान मैरिटाइम सेल्फ डिफेंस फोर्स और भारतीय नौसेना के बीच अंडमान सागर में 23 जुलाई 2022 को एक समुद्री साझेदारी अभ्यास (Maritime Partnership Exercise – MPX) आयोजित किया गया ।
  • इस अभ्यास का उद्देश्य इंटरऑपरेबिलिटी को बढ़ाना, जहाजरानी और संचार प्रक्रिया को सुव्यवस्थित करना है ।
  • यह अभ्यास हिन्द महासागर क्षेत्र में सुरक्षित अंतरराष्ट्रीय शिपिंग और व्यापार सुनिश्चित करने की दिशा में दोनों नौसेनाओं के बीच चल रहे प्रयासों का हिस्सा है ।

EX SAMPRITI- X ( पूर्व सम्प्रीति- X)

  • भारत- बांग्लादेश के मध्य 5 से 16 जून 2022 तक बांग्लादेश के जशोर सैन्य स्टेशन पर एक संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास ‘EX SAMPRITI- X ( पूर्व सम्प्रीति- X)’ का आयोजन किया गया ।
  • अभ्यास सम्प्रीति दोनों देशों द्वारा बारी-बारी से आयोजित किया जाने वाला एक महत्वपूर्ण द्विपक्षीय रक्षा सहयोग है , जो दोनों देशों की सेनाओं के बीच अंतर-संचालन एवं सहयोग को मजबूती प्रदान करने तथा इसे और अधिक व्यापक बनाने पर केंद्रित है ।
  • पिछला (9वां) संस्करण फरवरी 2020 में मेघालय के उमरोई में संपन्न हुआ था ।

एक्स खान क्वेस्ट- 2022

  • भारत सहित 16 देशों की सैन्य टुकड़ियों की भागीदारी वाला एक बहुराष्ट्रीय शांति अभ्यास ‘एक्स खान क्वेस्ट- 2022’ मंगोलिया के उलानबटोर में ‘पीस सपोर्ट ऑपरेशंस सेंटर’ में जून 2022 में संपन्न हुआ ।
  • इस अभ्यास में भारतीय सेना का प्रतिनिधित्व लद्दाख स्काउट्स के एक दल द्वारा किया गया है ।

पुनीत सागर अभियान

  • एनसीसी में 30 मई 2022 को अपने देशव्यापी प्रमुख अभियान ‘पुनीत सागर अभियान’ के नवीनतम चरण की शुरुआत की ।
  • इस अभियान के नवीनतम चरण में 10 राज्यों और 4 केंद्र शासित प्रदेशों के लगभग 74000 कैडेट्स शामिल हुए ।
  • पुनीत सागर अभियान की शुरुआत एनसीसी द्वारा नदियों और झीलों सहित समुद्री तटों एवं अन्य जल निकायों में मौजूद प्लास्टिक तथा अन्य कचरे को साफ करने, समुद्री तटों व नदी के किनारों को साफ रखने के महत्व के बारे में स्थानीय आबादी के बीच जागरूकता बढ़ाने के लिए की गई थी ।

एक्स-दुस्तलिक ( EX-DUSTLIK) सैन्य अभ्यास

  • भारतीय और उज्बेकिस्तान सेनाओं के मध्य संयुक्त प्रशिक्षण अभ्यास ‘एक्स-दुस्तलिक ( EX-DUSTLIK)’ का तीसरा संस्करण 22 मार्च से 31 मार्च 2022 तक उज्बेकिस्तान के यांगियारिक में आयोजित किया गया ।
  • इस अभ्यास के प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्देश्य एक- दूसरे से सर्वोतम अभ्यास सीखना और सामरिक स्तर पर अभ्यास साझा करना होगा ।
  • एक्स-दुस्तलिक ( EX-DUSTLIK) का पिछला संस्तरण मार्च 2021 में रानीखेत (उत्तराखंड) में आयोजित किया गया था ।

लामितिये – 2022 (LAMITIYE-2022)

  • भारतीय सेना और सेशेल्स रक्षा बलों (SDF) के मध्य 9वां संयुक्त सैन्य अभ्यास “लामितिये – 2022 (LAMITIYE-2022)” सेशेल्स रक्षा अकादमी सेशेल्स में 22 से 31 मार्च 2022 को आयोजित किया गया ।
  • इसका उद्देश्य अर्द्ध-शहरी वातावरण में शत्रु बलों के खिलाफ विभिन्न अभियानों के दौरान प्राप्त किए गए अनुभवों को साझा करना और संयुक्त अभियान शुरू करने के लिए क्षमता में वृद्धि करना ।
  • यह वर्ष 2001 से सेशेल्स में आयोजित होने वाला एक द्विवार्षिक प्रशिक्षण अभ्यास है ।

स्लीनेक्स ( SLINEX) समुद्री अभ्यास

  • भारत और श्रीलंका के मध्य द्विपक्षीय समुद्री अभ्यास का नौवां संस्करण “स्लीनेक्स ( SLINEX) 7 से 10 मार्च 2022 को विशाखापट्टनम में संपन्न हुआ ।
  • स्लीनेक्स का समुंद्री चरण बंगाल की खाड़ी में तथा बंदरगाह चरण विशाखापट्टनम के नौसेना डॉकयार्ड में आयोजित किया गया ।
  • इस समुद्री अभ्यास का उद्देश्य दोनों नौसेनाओं के बीच बहुआयामी समुंद्री संचालन के लिए अंतर- संचालन क्षमता को बढ़ाना , आपकी समझ में सुधार और सर्वोत्तम प्रथाओं और प्रक्रियाओं का आदान प्रदान करना है ।
  • इस अभ्यास का पिछला संस्करण अक्टूबर 2020 में त्रिंकोमाली (श्रीलंका) में आयोजित किया गया था । यह अभ्यास 2005 में शुरू हुआ था ।

धर्म गार्जियन 2022 ( DHARMA GUARDIAN) सैन्य अभ्यास

  • भारतीय सेना और जापानी ग्राउंड सेल्फ डिफेंस फोर्स के मध्य वार्षिक संयुक्त सैन्य अभ्यास “धर्म गार्जियन 2022 ( DHARMA GUARDIAN) 27 फरवरी से 10 मार्च 2022 तक बेलगावी (कर्नाटक) के फॉरेन ट्रेनिंग नोड में किया गया ।
  • दोनों देशों के सशस्त्र बलों के बीच तालमेल स्थापित करने का एक अनूठा अवसर प्रदान करने वाला यह अभ्यास भारत-जापान मैत्री के कालातीत सम्बन्धों को मजबूत करने की दिशा में केंद्रित है ।
  • ‘धर्म गार्जियन’ भारत और जापान के बीच एक वार्षिक सैन्य अभ्यास है । यह वर्ष 2018 से आयोजित किया जा रहा है ।

सुरक्षा कवच 2

  • भारतीय सेना के अग्निबाज़ डिवीजन और महाराष्ट्र पुलिस के मध्य ‘सुरक्षा कवच 2’ नामक एक संयुक्त अभ्यास का आयोजन 22 मार्च 2022 को पुणे के लुल्लानगर में किया गया ।
  • यह अभ्यास पुणे में किसी भी आतंकवादी हमले का मुकाबला करने हेतु और सेना द्वारा की गई प्रक्रियाओं और अभ्यासों के समन्वय के उद्देश्य से आयोजित किया गया था ।

ऑपरेशन गंगा

  • युद्धग्रस्त यूक्रेन से भारतीयों की वापसी के लिए भारत सरकार ने ‘ऑपरेशन गंगा’ अभियान शुरू किया था ।
  • इस अभियान के तहत यूक्रेन से पड़ोसी देशों- रोमानिया, हंगरी, पोलैंड,मोल्दोवा,स्लोवाकिया में चले गए भारतीयों को एयर इंडिया और एयर फोर्स के विमानों से स्वदेश लाया गया ।
  • ऑपरेशन गंगा के बल पर लगभग 23000 भारतीय नागरिकों के साथ-साथ 18 देशों के 147 विदेशी नागरिकों को भी युक्रेन से सफलतापूर्वक सुरक्षित निकाला ।

बहुपक्षीय अभ्यास “मिलन-2022”

  • भारतीय नौसेना के बहुपक्षीय अभ्यास “मिलन-2022” नवीनतम संस्करण की शुरुआत विशाखापट्टनम में 25 फरवरी 2022 को हुई ।
  • भारतीय नौसेना का बहुपक्षीय अभ्यास “मिलन-2022” वस्तुत: दो चरणों में आयोजित किया जा रहा है, जिसका बंदरगाह चरण 25- 28 फरवरी 2022 को आयोजित किया गया । इस अभ्यास का दूसरा चरण समुद्री चरण 1 से 4 मार्च 2022 को किया गया ।
  • इस अभ्यास में 40 से अधिक देशों के युद्ध पोतों/ डेलिगेशन ने हिस्सा लिया । इस अभ्यास का उद्देश्य अनुकूल सेनाओं के बीच पेशेवर बातचीत के माध्यम से अभियान कौशल को बेहतर बनाना, सर्वोत्तम प्रथाओं एवं प्रक्रियाओं को आत्मसात करना और समुद्री क्षेत्र में सैन्य नीतियों से जुड़ी सैद्धांतिक शिक्षा का अवसर पाना है ।
  • 2022 के इस अभ्यास का विषय -“कैमराडरी- कोहेजन – कोलेबोरेशन” है, जिसका ध्येय भारत को विश्व के लिए बड़े स्तर पर एक जिम्मेदार समुद्री शक्ति के रूप में पेश करना है ।

वायु अभ्यास ईस्टर्न ब्रिज-VI

  • भारतीय वायुसेना और ओमान की रॉयल एयरफोर्स में पाँच दिवसीय संयुक्त अभ्यास “ईस्टर्न ब्रिज-VI” राजस्थान स्थिति जोधपुर वायुसेना स्टेशन पर 21 से 25 फरवरी 2022 को किया गया ।
  • यह अभ्यास दोनों वायुसेना के बीच अनुभव के आदान-प्रदान को बढ़ावा देने और दोनों वायु सेनाओं को अभियानगत क्षमता और अंतर-अभियानगत क्षमता बढ़ाने का अवसर प्रदान करने के उद्देश्य के तहत आयोजित किया गया था ।
  • इस अभ्यास का पिछला संस्करण 2019 में ओमान के मासिराह एयरबेस पर हुआ था ।

कोप साउथ 22

  • बांग्लादेश और संयुक्त राज्य अमेरिका की वायु सेना द्वारा एक संयुक्त सामरिक एयरलिफ्ट अभ्यास “कोप साउथ 22” का आयोजन 20 से 25 फरवरी 2022 को किया गया ।
  • छह दिनों के अभ्यास को प्रशांत वायु सेना द्वारा प्रायोजित यह द्विपक्षीय अभ्यास बांग्लादेश वायुसेना के कुर्मितोला छावनी,ढाका में आयोजित किया गया ।

CHIRU-2022 सैन्य अभ्यास

  • चीन, रूस और ईरान की नौसेना ने ओमान की खाड़ी में नौसैनिक अभ्यास “CHIRU-2022” जनवरी 2022 में किया ।
  • हिंद महासागर के उत्तरी भागों में आयोजित समुद्री अभ्यास का उद्देश्य तीनों देशों की नौसेनाओं के बीच व्यवहारिक सहयोग को गहरा करना है ।

पश्चिम लहर (XPL-2022)

  • भारतीय नौसेना द्वारा पश्चिमी तट पर आयोजित एक संयुक्त समुद्री अभ्यास “पश्चिम लहर (XPL-2022)” 25 जनवरी 2022 को संपन्न हुआ ।
  • 20 दिनों तक चले इस अभ्यास का आयोजन पश्चिमी नौसेना कमान की परिचालन संबंधी योजनाओं को सुदृढ़ करने और भारतीय नौसेना, भारतीय वायुसेना, भारतीय थल सेना एवं तटरक्षक बल के बीच अंतर-सेवा तालमेल बढ़ाने की दृष्टि से किया गया था ।

पासेक्स (PASSEX-2022)

  • भारतीय नौसेना के स्वदेश में डिजाइन और निर्मित की गई गाइडेड मिसाइल विध्वंसक “आईएनएस कोच्चि” ने रूस की नौसेनाओं के ‘आरएफएस एडमिरल ट्रिब्यूट्स’ के साथ 14 जनवरी 2022 को अरब सागर में पासेक्स (PASSEX-2022) आयोजन किया ।
  • इस अभ्यास ने दोनों नौसेनाओं के बीच सामंजस्य और आपसी क्रियाशीलता का प्रदर्शन किया ।

सी ड्रैगन 2022

  • भारत और अमेरिका जनवरी 2022 में पश्चिमी प्रशांत में गुआम के एंडरसन वायु सेना बेस में बहुराष्ट्रीय पनडुब्बी रेधी युद्ध अभ्यास “सी ड्रैगन 2022 ” के लिए अन्य भागीदार देशों के साथ शामिल हुए ।
  • अन्य भागीदारी देशों में कनाडा,द. कोरिया, ऑस्ट्रेलिया और जापान शामिल है ।

इन्हें भी पढ़ें:- 

Leave a Reply

Scroll to Top